अग्निवीर योजना से केंद्र सरकार ने युवाओं के साथ किया छल

उज्ज्वल हिमाचल। शिमला

कांग्रेस ने केंद्र की भाजपा सरकार पर बेरोजगार युवाओं के साथ छल करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने अग्निवीर भर्ती योजना के नाम पर सैनिकों में भेदभाव पैदा करने के साथ पुरानी प्रक्रिया के तहत भर्ती देने वाले डेढ़ लाख युवाओं के साथ धोखा करने की बात कही है।

प्रदेश कांग्रेस पूर्व सैनिक विभाग के उपाध्यक्ष एस के सहगल व युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष निगम भंडारी। ने कांग्रेस मुख्यालय में संयुक्त। प्रेसवार्ता कर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। निगम भंडारी ने कहा कि पीएम मोदी ने वायदा किया था कि हर साल दो करोड़ रोजगार दिया जाएगा। दस सालों में 20 करोड़ रोजगार दिया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि सरकार ने अग्निवीर योजना से युवाओं और देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया।

इसके तहत देश के लिए सहादत देने वालो के वेतन में काफी अंतर है जबकि सेवाएं समान है। इससे सैनिको में भेदभाव किया जा रहा है। अग्निवीर सैनिक जब देश के लिए जान की कुर्बानी दे रहा है तो उसके लिए कोई सम्मान नही दिया जाता। वेतन के अलावा सहादत पर जो आर्थिक मदद की जाती हैं वह भी रेगुलर सैनिक से काफी कम है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी लगातार इसकी लड़ाई लड़ते आ रहे हैं। और आगे भी लड़ते रहेंगे।

वहीं कांग्रेस पूर्व सैनिक विभाग के उपाध्यक्ष एस के सहगल ने बताया कि अग्निवीर से पहले पहले डेढ़ लाख युवाओं ने परीक्षा दी। जिसके लिए युवाओं ने काफी संघर्ष किया। इन युवाओं की एक नही सुनी गई। युवाओं ने जब आवाज उठाई तो उनका दमन किया गया। युवाओं ने बिहार से दिल्ली तक मार्च भी निकाला। लेकिन कुछ नही हुआ। अग्निवीर योजना के लागू होने से युवाओं ने सेना में आने से हाथ पीछे खींच लिए हैं।

सेना में अब युवाओं के जाने का आंकड़ा कम हुआ है। उन्होंने मांग की कि इन युवाओं को केंद्र नियुक्ति दे। जिन्होंने भर्ती दी और सेना में न लिए जाने पर आत्म दाह कर लिया उन्हें एक करोड़ की मदद दी जाए। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस युवाओं के साथ खड़ी है। केंद्र में कांग्रेस की सरकार आने पर पुरानी भर्ती को फिर से लागू किया जाएगा।

ब्यूरो रिपोर्ट शिमला

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें

Please share your thoughts...