Wednesday, May 19, 2021
Home Breaking News BREAKING : कोरोना से राहत के संकेत, इन राज्यों में दैनिक मामलों...

BREAKING : कोरोना से राहत के संकेत, इन राज्यों में दैनिक मामलों में गिरावट

उज्जवल हिमाचल। डेस्क

अप्रैल महीने में बेतहाशा तेजी के बाद अब कोरोना संक्रमण के कदम थमने के शुरुआती संकेत मिलने लगे हैं। दिल्ली, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश समेत कुछ राज्यों में दैनिक संक्रमण के मामलों में या तो गिरावट दिख रही है या फिर इनमें स्थिरता आ गई है। संक्रमण थमने के शुरुआती संकेत की जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि 21 अप्रैल को नए मामलों की तुलना में सिर्फ 57 फीसद मरीज ठीक हुए थे, लेकिन तीन मई को ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 82 फीसद हो गई है। हालांकि अभी लहर थमने को लेकर आश्वस्त नहीं हुआ जा सकता है। इसलिए सतर्कता बहुत जरूरी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते हुए 27 अप्रैल को संक्रमितों का आंकड़ा 34 हजार को भी पार गया था। बाद में बढ़ने का सिलसिला थमा और कुछ गिरावट के साथ दो मई को यह संख्या 33 हजार पर आ गई। इसी तरह दिल्ली में 25 अप्रैल को पीक पर पहुंचने के बाद दो मई तक नए मामलों में एक हजार की गिरावट दर्ज की गई है। छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में भी संक्रमण का यही ट्रेंड दिखा है। मध्य प्रदेश, पंजाब, तेलंगाना और गुजरात में नए मामलों में बढ़ोतरी थम गई है।

लव अग्रवाल ने कहा कि ये शुरुआती संकेत हैं और यदि राज्य सरकारें संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए इसी तरह कदम उठाती रहीं तो आने वाले समय में और भी बेहतर नतीजे देखने को मिल सकते हैं। हालांकि अभी पूरी तरह आश्र्वस्त नहीं हुआ जा सकता है। कई राज्यों में संक्रमण के नए मामलों की तेजी अब भी चिंता का कारण बनी हुई है। लव अग्रवाल ने कहा कि बिहार, हरियाणा, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, असम, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक और केरल जैसे राज्यों में केस में बढ़ोतरी जारी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय इसे रोकने के लिए इन राज्यों के संपर्क में है। लव अग्रवाल ने कहा कि कुछ राज्यों में अच्छे संकेतों के दम पर राष्ट्रीय स्तर पर भी स्थिति बेहतर होती दिख रही है। देशभर में प्रतिदिन संक्रमित होने वाले मरीजों की तुलना में इससे ठीक होने वालों की संख्या में धीरे-धीरे बढ़ोतरी हो रही है। नए मामले भी कम हो रहे हैं।

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

कोर्नेल यूनिवर्सिटी अमेरिका व यूएन एजेंसियों से विजय हीर ने पूर्ण किए 100 इन्टरनेशनल कोर्स 

एसके शर्मा / हमीरपुर हमीरपुर जिला के घंगोट स्कूल में तैनात टीजीटी कला शिक्षक विजय हीर ने 100 इन्टरनेशनल कोर्सों सहित 1300 कोर्स सर्टिफिकेट 8...

कुम्भ की आड़ में कांग्रेस का हिंदू विरोधी चेहरा हुआ बेनकाव : कश्यप

उज्जवल हिमाचल। शिमला भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने बताया कांग्रेस की टूलकिट लीक हुई है। इसमें हरिद्वार में लगे कुम्भ को कोरोना का ‘सुपर...

वैक्सीन लगाना बना घूमने का बहाना

शकुंतला ठाकुर। कुल्लू प्रदेश में 17 मई से 18 वर्ष से 44 वर्ष के आयु वर्ग के युवाओं के लिए कोविड टीकाकरण आरंभ हो गया...

अनाथ बच्चों की उचित देखभाल और सुरक्षा सुनिश्चित कर रही है प्रदेश सरकारः मुख्यमंत्री

उज्जवल हिमाचल। शिमला मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां बताया कि कोरोना महामारी से न केवल वैश्विक अर्थ-व्यवस्था प्रभावित हुई है, बल्कि बहुत से...

Related News

कोर्नेल यूनिवर्सिटी अमेरिका व यूएन एजेंसियों से विजय हीर ने पूर्ण किए 100 इन्टरनेशनल कोर्स 

एसके शर्मा / हमीरपुर हमीरपुर जिला के घंगोट स्कूल में तैनात टीजीटी कला शिक्षक विजय हीर ने 100 इन्टरनेशनल कोर्सों सहित 1300 कोर्स सर्टिफिकेट 8...

कुम्भ की आड़ में कांग्रेस का हिंदू विरोधी चेहरा हुआ बेनकाव : कश्यप

उज्जवल हिमाचल। शिमला भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने बताया कांग्रेस की टूलकिट लीक हुई है। इसमें हरिद्वार में लगे कुम्भ को कोरोना का ‘सुपर...

वैक्सीन लगाना बना घूमने का बहाना

शकुंतला ठाकुर। कुल्लू प्रदेश में 17 मई से 18 वर्ष से 44 वर्ष के आयु वर्ग के युवाओं के लिए कोविड टीकाकरण आरंभ हो गया...

अनाथ बच्चों की उचित देखभाल और सुरक्षा सुनिश्चित कर रही है प्रदेश सरकारः मुख्यमंत्री

उज्जवल हिमाचल। शिमला मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां बताया कि कोरोना महामारी से न केवल वैश्विक अर्थ-व्यवस्था प्रभावित हुई है, बल्कि बहुत से...

प्रदेश सरकार मौजूदा संस्थानों में बिस्तरों की क्षमता में वृद्धि करेगीः मुख्यमंत्री

उज्जवल हिमाचल। शिमला मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां बताया कि प्रदेश सरकार ने राज्य में कोविड-19 के मामलों में हो रही तीव्र वृद्धि...

Please share your thoughts...

%d bloggers like this: