Saturday, June 12, 2021
Home Himachal 2021 का पहला सूर्य ग्रहण ,जानें कहां-कहां दिखाई देगा

2021 का पहला सूर्य ग्रहण ,जानें कहां-कहां दिखाई देगा

उज्जवल हिमाचल। डेस्क

साल 2021 का सूर्य ग्रहण लगने में कुछ ही दिन शेष रह गया है। ज्योतिष विशेषज्ञ के अनुसार, वर्ष 2021 में दो चंद्र ग्रहण और दो सूर्य ग्रहण लगने वाले हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, सूर्य ग्रहण का मनुष्यों के जीवन पर भी प्रभाव पड़ता है। उसके लिए कई प्रकार की सावधानियां बताई जाती हैं। वहीं विज्ञान इसे एक खगोलीय घटना मानता है। जागरण अध्यात्म के इस लेख में हम आपको लगने वाले सूर्य ग्रहण के बारे में बताने जा रहे हैं कि यह कब लगेगा और किन देशों में दिखाई देगा।

वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण कब?
2021 का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून 2021 को लगेगा। जो हमें उत्तरी अमेरिका के उत्तरी भाग तथा यूरोप और एशिया में आंशिक तौर पर दिखाई देगा। इसके अलावा उत्तरी कनाडा, ग्रीनलैंड और रूस में यह पूर्ण रूप से नजर आएगा। अगर भारत की बात करें तो यह आंशिक रूप में ही दिखाई देगा।

2021 का दूसरा सूर्य ग्रहण कब?
साल 2021 का दूसरा सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर 2021 को लगेगा। इस ग्रहण का असर अंटार्कटिका, दक्षिण अफ्रीका, अटलांटिक के दक्षिणी भाग, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा। हालांकि, भारत में सूर्य ग्रहण का असर शून्य होगा। ऐसे स्थिति से भारत में सूतक काल भी मान्य नहीं होगा।

कितने प्रकार के होते हैं सूर्य ग्रहण:
1. पूर्ण सूर्य ग्रहण:
जब चन्द्रमा पृथ्वी के बेहद पास रहते हुए पृथ्वी और सूर्य के बीच में आ जाता है। इससे चन्द्रमा पूर्ण रूप से पृ्थ्वी को अपनी छाया क्षेत्र में ले पाता है, जिससे सूर्य का प्रकाश पृ्थ्वी तक नहीं पहुंच पाता है और पूरी धरती अंधकारमय हो जाती है, इसे ही पूर्ण सूर्य ग्रहण कहा जाता है।

2. आंशिक सूर्य ग्रहण:
जब सूर्य और पृथ्वी के बीच चंद्रमा कुछ इस प्रकार आए कि सूर्य का कुछ ही भाग पृथ्वी से दिखाई दे। इसके परिणाम स्वरुप चन्द्रमा, सूर्य के कुछ ही हिस्से को अपनी छाया क्षेत्र से ढक पाता है, इसे आंशिक सूर्य ग्रहण कहा जाता है।

3. वलयाकार सूर्य ग्रहण:
जब चन्द्रमा पृथ्वी से काफी दूर होने के बाद भी पृथ्वी और सूर्य के बीच में आ जाता है। यह सूर्य को इस तरह से ढक देता है कि सूर्य का केवल बीच का हिस्सा ही चंद्रमा के छाया क्षेत्र में आ पाता है और जब हम पृथ्वी से देखते हैं तो सूर्य पूरी तरह के ढका हुआ दिखाई नहीं देता है। यह कंगन या वलय के रूप में दिखाई देता है। इसे ही वलयाकार सूर्य ग्रहण कहा जाता है।

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

अफवाहें न फैलाएं, स्वास्थ हैं पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह : विक्रमादित्य सिंह

उज्जवल हिमाचल ब्यूराे। शिमला विधायक विक्रमादित्य सिंह ने सोशल मीडिया में उनके पिता पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के स्वास्थ्य बारे कुछ निराधार अफवाहों को पूरी...

तेंदुएं ने 4 मवेशियों को बनाया अपना शिकार

चमेल सिंह देसाईक। शिलाई विस क्षेत्र के अंदर तेंदुऐ का ख़ौफ़ बरकरार है, तेंदुए ने टटियाणा गांव में 4 मवेशियों को अपना शिकार बनाया है,...

लाचार कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष को साईकल पर भी लेना पड़ा कार्यकर्ताओं का सहारा

उज्जवल हिमाचल। शिमला भाजपा प्रदेश महामंत्री एवं राजनीतिक सलाहकार मुख्यमंत्री त्रिलोक जंवाल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी लाचार है, उनके प्रदेश अध्यक्ष...

मंदिर का निर्माण कार्य के लिए दिए 11 हजार

चमेल सिंह देसाईक। शिलाई गिरिखंड क्षेत्र के रहने वाले समाजसेवी जगदीश तोमर सामाजिक कार्यों के लिए पहचाने जाते हैं। यह क्षेत्र में सामाजिक, धार्मिक कार्यों...

Related News

अफवाहें न फैलाएं, स्वास्थ हैं पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह : विक्रमादित्य सिंह

उज्जवल हिमाचल ब्यूराे। शिमला विधायक विक्रमादित्य सिंह ने सोशल मीडिया में उनके पिता पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के स्वास्थ्य बारे कुछ निराधार अफवाहों को पूरी...

तेंदुएं ने 4 मवेशियों को बनाया अपना शिकार

चमेल सिंह देसाईक। शिलाई विस क्षेत्र के अंदर तेंदुऐ का ख़ौफ़ बरकरार है, तेंदुए ने टटियाणा गांव में 4 मवेशियों को अपना शिकार बनाया है,...

लाचार कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष को साईकल पर भी लेना पड़ा कार्यकर्ताओं का सहारा

उज्जवल हिमाचल। शिमला भाजपा प्रदेश महामंत्री एवं राजनीतिक सलाहकार मुख्यमंत्री त्रिलोक जंवाल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी लाचार है, उनके प्रदेश अध्यक्ष...

मंदिर का निर्माण कार्य के लिए दिए 11 हजार

चमेल सिंह देसाईक। शिलाई गिरिखंड क्षेत्र के रहने वाले समाजसेवी जगदीश तोमर सामाजिक कार्यों के लिए पहचाने जाते हैं। यह क्षेत्र में सामाजिक, धार्मिक कार्यों...

वरिष्ठ पत्रकार अशोक महाजन का निधन

उज्जवल हिमाचल ब्यूराे। धर्मशाला हिमाचल प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार अशोक महाजन का निधन हो गया। उन्होंने पीजीआई चंडीगढ़ में आज अंतिम सांस ली। 69 वर्षीय...

Please share your thoughts...

%d bloggers like this: