भाजपा ने आपातकाल की याद में मनाया काला दिवसः सहजल

हिमाचल प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था

उज्ज्वल हिमाचल। नालागढ़

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री राजीव सहजल द्वारा जारी बयान में कहा कि 25 जून 1975 का दिन हमारे देश के इतिहास में एक महत्वपूर्ण दिन है, जिसे देश और लोकतंत्र में विश्वास रखने वाले लोग कभी नहीं भूल पाएंगे। इस दिन तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल की घोषणा की थी, जिसमें देश की विपक्षी पार्टियों के नेताओं को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया था। उन्होंने इस दौरान मीडिया पर भी सेंसरशिप लगा दी थी, जिसे लोकतंत्र का चौथा स्तंभ माना जाता है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस दिन को काला दिवस के रूप में मनाती है और लोकतंत्र के खिलाफ उठने वाली अलोकतांत्रिक ताकतों का विरोध करती है।

सहजल ने नालागढ़ उपचुनाव के संदर्भ में कहा कि केएल ठाकुर भाजपा के प्रत्याशी हैं, जो दो बार विधायक रह चुके हैं और उनके पक्ष में जनता का समर्थन है। सहजल ने कहा कि नालागढ़ क्षेत्र के लोग बाहरी उम्मीदवारों के खिलाफ हैं और चाहते हैं कि उनका प्रतिनिधि स्थानीय हो, जो उनकी समस्याओं को समझ सके और उनके लिए काम कर सके। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी हमेशा से अलोकतांत्रिक रही है और चुनावों के दौरान झूठे वादे करके लोगों को भ्रमित करती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा महिलाओं को 1500 देने के वादे को अभी तक पूरा नहीं किया गया है और यह उनकी झूठ बोलने की आदत बन चुकी है।
राजीव सहजल ने नालागढ़ लोकसभा चुनाव में भाजपा की 15 हजार की लीड को सकारात्मक बताते हुए कहा कि यह कमल के फूल और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की नीतियों में जनता के विश्वास को दर्शाता है। उन्होंने हिमाचल प्रदेश की वर्तमान सरकार को इतिहास की सबसे कमजोर बताते हुए कहा कि कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ रही है और असामाजिक तत्व सक्रिय हो रहे हैं।सहजल ने अंत में कहा कि भाजपा के प्रत्याशी के.एल. ठाकुर की जीत निश्चित है और 13 जुलाई को जब मतगणना होगी, तो वह अच्छे मतों से विजयी होंगे।
संवाददाताः सुरेंद्र सिंह सोनी

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें