Monday, July 26, 2021
Home Himachal हिमाचल : विदाई के एक घँटे बाद ही दूल्हा दोबारा ससुराल पहुंचा

हिमाचल : विदाई के एक घँटे बाद ही दूल्हा दोबारा ससुराल पहुंचा

उज्जवल हिमाचल ब्यूरो । मंडी

विदाई के एक घँटे बाद ही यदि दुल्हन और दूल्हा बारात लेकर दोबारा ससुराल पहुंच जाए तो हड़कंप मचना लाजिमी है। मामला हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले का है। दरअसल, भारी बारिश के चलते लैंडस्लाइड हुई और रास्ता बंद हो गया। लोगों के साथ-साथ बारात भी फंस गई। फिर क्या था सभी ने दोबारा दुल्हन के घर लौटना ही मुनासिब समझा। जब दोबारा दुल्हन के घर पहुंचे तो कुछ देर के लिए परिजनों के होश उड़ गए।

जानकारी के अनुसार, मंडी जिले के पधर उपमंडल के रोपा गांव में मरखान का यह मामला है। बारात सभी रस्मों को निभाने के बाद दुल्हन को लेकर विदा हो गई थी। परिवार वालों ने भी अपने घर की लाडली को विदा कर दिया, लेकिन अभी बारात को गए हुए एक घंटा भी नहीं हुआ था कि दुल्हन वापस लौट आई। दुल्हन ही वापस नहीं लौटी, बल्कि पूरी की पूरी बारात भी वापस आ गई। बारात को वापस लौटता देख दुल्हन पक्ष के होश फाख्ता हो गए, लेकिन जब सच्चाई पता चली तो दोबारा से बारात की आवभगत हुई।

add city hospital

सड़क हुई बंद तो कैसे जाते?
सोमवार शाम को बल्ह के समीप पहाड़ी से भारी भूस्खलन होने की वजह से बंद हो गया था। खराब मौसम और रात हो जाने की वजह से मार्ग में यातायात बहाल करने के लिए राहत कार्य नहीं हो पाया. ऐसे में मार्ग में दूल्हा-दुल्हन और बाराती फंस गए। बारातियों को रात काटने के लिए फिर दुल्हन के घर लौटना पड़ा। इस दौरान कुछ बाराती पैदल सफर तय कर अपने घर पहुंचे। दूल्हे के घर मरखान गांव में बारातियों के वापस लौटने पर खाने पीने के लिए किए गए सभी इंतजाम धरे रह गए। दूसरी तरफ, दुल्हन पक्ष वालों को फिर से पूरी बारात के लिए रहने और खाने-पीने की व्यवस्था करनी पड़ी। लोक निर्माण विभाग ने मंगलवार तड़के मार्ग को बहाल करने के लिए जेसीबी मशीनें भेजी। बाद में दूल्हा-दुल्हन बारातियों संग मरखान गांव के लिए रवाना हुए। बारात निकलते ही मार्ग फिर दोबारा पहाड़ी से मलबा और पत्थर आ जाने से अवरुद्ध हो गया। दोपहर को एक बजे वाहनों की आवाजाही शुरू हो पाई।

 

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

कारगिल युद्ध में कांगड़ा के 15 जवानों ने पाई थी शहादत : निपुण जिंदल

उज्जवल हिमाचल ब्यूरो। धर्मशाला कारगिल विजय दिवस पर जिला मुख्यालय धर्मशाला स्थित शहीद स्मारक में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सैन्य व जिला...

सीएम के निर्देश पर फौरी अमल, सूरजमणि की मदद को घर पहुंचा प्रशासनिक अमला

उज्जवल हिमाचल ब्यूरो। मंडी मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के निर्देशों पर फौरी अमल करते हुए डीसी मंडी अरिंदम चौधरी की अगुवाई में जिला के आला...

काजा में सीएम कराेड़ाें रुपए की योजनाओं का करेंगे शिलान्यास व उद्घाटन

उज्जवल हिमाचल ब्यूराे । शिमला जिलाधीश नीरज कुमार ने कहा कि सुबह 8 बजे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर शिमला से काजा के लिए रवाना होंगे। और...

हिमाचल : जिला में कोविड टीकाकरण के लिए 83 केंद्र किए स्थापित

उज्जवल हिमाचल ब्यूरो। धर्मशाला कांगड़ा जिला में मंगलवार को 18 से अधिक आयुवर्ग के लिए 83 टीकाकरण केंद्र स्थापित किए जाएंगे इसमें भवारना ब्लाक के...

Related News

कारगिल युद्ध में कांगड़ा के 15 जवानों ने पाई थी शहादत : निपुण जिंदल

उज्जवल हिमाचल ब्यूरो। धर्मशाला कारगिल विजय दिवस पर जिला मुख्यालय धर्मशाला स्थित शहीद स्मारक में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सैन्य व जिला...

सीएम के निर्देश पर फौरी अमल, सूरजमणि की मदद को घर पहुंचा प्रशासनिक अमला

उज्जवल हिमाचल ब्यूरो। मंडी मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के निर्देशों पर फौरी अमल करते हुए डीसी मंडी अरिंदम चौधरी की अगुवाई में जिला के आला...

काजा में सीएम कराेड़ाें रुपए की योजनाओं का करेंगे शिलान्यास व उद्घाटन

उज्जवल हिमाचल ब्यूराे । शिमला जिलाधीश नीरज कुमार ने कहा कि सुबह 8 बजे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर शिमला से काजा के लिए रवाना होंगे। और...

हिमाचल : जिला में कोविड टीकाकरण के लिए 83 केंद्र किए स्थापित

उज्जवल हिमाचल ब्यूरो। धर्मशाला कांगड़ा जिला में मंगलवार को 18 से अधिक आयुवर्ग के लिए 83 टीकाकरण केंद्र स्थापित किए जाएंगे इसमें भवारना ब्लाक के...

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इकाई

उज्जवल हिमाचल ब्यूराे। शिमला आज 26 जुलाई को एबीवीपी हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इकाई ने कारगिल विजय दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन किया तथा हिमाचल प्रदेश...

Please share your thoughts...

%d bloggers like this: