वीडियो के मध्यम से पौधा रौपण करने का दिया संदेश

विश्व पर्यावरण दिवस पर वीडियो थीम किया जारी

उज्जवल हिमाचल। नूरपुर

जिला कांगडा के गांव लौहरा में एक निजी लिटल एंजेल स्कूल के बच्चों ने आज विश्व पर्यावरण दिवस पर पौधारोपण कर वीडियो थीम जारी किया है। वीडियो के माध्यम से बच्चों ने लोगों से अधिक से अधिक पौधा रोपण करने की गुहार लाई है। बच्चों ने कहा कि अगर अपना भविष्य सुरक्षित करना है तो अधिक से अधिक पौधे लगाना है। बहीं धरातल पर उतर कर बच्चों ने पौधावरोपण किया व पौधा रोपण करते हुए वीडियो थीम जारी करते हुए पौधारोपण का संदेश दिया है। इस मौकै पर स्कूल के एमडी अजय सिंह ने कहा कि बच्चो का यह प्रयत्न सहरानीय है।

आज विश्व पर्यावरण दिवस पर स्कूल मे पौधारोपण किया गया है। उन्होंने कहा की पर्यावरण संरक्षण के प्रति लोगों में जागरुकता फैलाने के मकसद से विश्व पर्यावरण दिवस मनाने की शुरुआत हुई थी। हर साल 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है। पर्यावरण संरक्षण हमारे बच्चों और आने वाली पीढ़ियों को एक बेहतर और सुरक्षित पर्यावरण सुनिश्चित करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है। मानव और पर्यावरण के बीच गहरे संबंध को समझाना जरूरी है। तभी लोग इसके प्रति अपनी जिम्मेदारी समझेंगे।

विश्व पर्यावरण दिवस का इतिहास साल 1972 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने मानव पर्यावरण पर स्टॉकहोम सम्मेलन के दौरान 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस मनाने का एक प्रस्ताव पारित किया था। जिसके बाद से हर साल यह दिन मनाया जाने लगा। पहला विश्व पर्यावरण दिवस 1973 में “केवल एक पृथ्वी”के साथ मनाया गया था। इस तरह नूरपूर ज्वाली इंदौरा व फतेहपुर विधानसभा क्षेत्रों में आज विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया।

संवाददाताः विनय महाजन

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें