भाजपा ने धनबल के साथ चोरों की तरह विधायकों को यहां-वहां छिपाया

उज्ज्वल हिमाचल। ऊना 

कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने आज हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के गगरेट में जनसभा को संबोधित किया। कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपदा के समय एक बार भी हिमाचल नहीं आए। कांग्रेस पैसों व धनबल के लिए नहीं, जनता के लिए काम करती है। आपदा के राहत कार्यों के लिए केंद्र की तरफ से प्रदेश के लिए एक रुपया नहीं आया। मोदी ने अपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित नहीं किया। सारी राहत प्रदेश सरकार की ओर से दी गई। प्रियंका ने कहा कि मोदी व अमित शाह ने प्रदेश की चुनी हुई सरकार को गिराने की कोशिश की। धनबल के साथ चोरों की तरह विधायकों को कभी यहां, कभी वहां छिपाया। यह लोकतंत्र के खिलाफ सबसे बड़ा अपराध जनता की आंखों के सामने करने की कोशिश हुई। यह हमारे नेताओं की दृढ़ता थी कि सरकार एकजुट रही। जिनको जाना था, धनबल के आधार पर चले गए।  भाजपा का सिर्फ एक धर्म सत्ता व संपत्ति है।

प्रियंका ने कहा कि मोदी सरकार ने 10 सालों से देश की जनता को गुमराह करके रखा है। बेरोजगारी चरम पर है। आज देश में 70 करोड़ लोग बेरोजगार हैं। देश में युवा शिक्षित हैं, लेकिन किसी के पास रोजगार नहीं है। मोदी सरकार के 10 सालों में लोकतंत्र का नामोनिशान नहीं रहा। सरकारें धनबल से गिराई जाती हैं। हर जगह, हर स्तर पर जनता के साथ विश्वासघात किया है। कांग्रेस की सरकारें लोगों को राहत पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा के नेता चुनाव आते ही भटकाने, धर्म की बातें करने लगते हैं। कहा कि जब तक इस देश में एक सभ्य राजनीति स्थापित नहीं होगी तब तक कुछ नहीं बदलेगा। कहा कि इस देश के लोकतंत्र, संविधान पर आंच नहीं आने देंगे।

मोदी सरकार ने हिमाचल में सेब के कोल्ड स्टोर खरबपतियों को दे दिए

प्रियंका कहा कि मोदी सरकार ने विदेश से आने वाले सेब पर टैक्स कम कर दिया, जबकि यहां जीएसटी पर जीएसटी लगाया जा रहा है। कांग्रेस किसानों को मजबूत बनाने का काम करेगी। प्रियंका ने कहा कि मोदी सरकार ने हिमाचल में सेब के कोल्ड स्टोर खरबपतियों को दे दिए।  हिमाचल में ओपीएस देने का फैसला लिया तो मोदी सरकार ने एनपीएस के पैसे रुकवा दिए। आपदा राहत राशि रुकवा दी। हर तरफ से केंद्र सरकार आपकी मुश्किलों को बढ़ाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा का चुनाव प्रचार सिर्फ धर्म के नाम पर रहा है।

मोदी ने जनता से कई वादे किए, लेकिन नहीं हुए पूरे

मोदी ने सत्ता में आने से पहले जनता से कई वादे किए, लेकिन पूरे नहीं हुए। नोटबंदी में सभी को लाइनों में खड़ा किया। कोई काला धन वापस नहीं आया, न लोगों के खातों में 15-15 लाख रुपये आए। कहा कि मोदी  बड़े-बड़े नेताओं से मिलते हैं, विभिन्न देशों के दाैरे करते हैं, लेकिन आपदा के दाैरान हिमाचल नहीं आए। देश में धर्म के आधार पर राजनीति चल रही है। भाजपा संविधान बदलने की बात कर रही है।

ब्यूरो रिपोर्ट ऊना

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें

Please share your thoughts...