नाला बन गई सड़क, वाहन फंसे, लोग हुए परेशान

उज्ज्वल हिमाचल। मंडी

जोगिंद्रनगर (मंडी)। उपमंडल जोगिंद्रनगर में लगातार हो रही बारिश से ग्रामीण सड़कें नालों में तबदील हो गई हैं। इनमें वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी आसान नहीं रहा है। कई वाहन सड़कों के किनारे फंसे हुए हैं। पीडब्ल्यूडी और एनएचएआई की सड़कों की सूरत बरसात की पहली ही बारिश ने बिगाड़ी है। इससे दुर्घटनाओं का अंदेशा बढ़ गया है। सामरिक दृष्टि से अहम मंडी-पठानकोट हाइवे की सड़क की टारिंग उखड़ने से वाहनों की रफ्तार भी थम रही है।

शहर की आरंभ सीमा गुगली खड्ड से मुख्य बाजार में एनच गड्ढे में तबदील हो हया है। इससे सफर जोखिम भरा हो चुका है। भूस्खलन से संभावित क्षेत्रों में सड़क पर चट्टानें गिरने का खतरा बना हुआ है। लगातार हो रहे पानी के रिसाव से पैदल चलने वालों को भी परेशान होना पड़ रहा है। उधर, नोहली, भराडू, पधर सड़क पर भी भूस्खलन के बाद आए मलबा से कीचड़ फैल गया है। इससे बसों की आवाजाही भी प्रभावित हो रही है। ऐहजू, बसाही सड़क और लडभड़ोल क्षेत्र की बैजनाथ सांढापतन सड़क को भी बारिश से नुकसान पहुंचा है।

जोगिंद्रनगर सरकाघाट सड़क पर बसाही से लेकर चीहर तक सड़क पर पत्थर गिर रहे हैं। वहीं घटासनी-बरोट सड़क पर टिकन से आगे पहाड़ी से मलबा और पत्थर गिरने का खतरा बना हुआ है। बरसात के मद्देनजर एसडीएम जोगिंद्रनगर मनीश चौधरी ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिए हैं, ताकि आपदा में फंसे लोगों को त्वरित सहायता दी जा सके। आपात स्थिति में लोग तहसील कार्यालय के कानूनगो राजकुमार से 94597-68600, लडभड़ोल तहसील के कानूनगो बुद्धि सिंह से 89880-86621 और उप तहसील कार्यालय कानूनगो दुलो राम से 93187-60521 के अलावा उपमंडलीय कार्यालय कानूनगो से 82195-93251 पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा एसडीएम कार्यालय में स्थापित कंट्रोल रूम 01908223895 पर संपर्क किया जा सकता है।

संवाददाताः उमेश भारद्वाज

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें

Please share your thoughts...