बकरी पालकों की 22 बकरियों पर जंगली जानवर ने किया हमला, 4 बकरियों की मौत, 3 जिंदा मिली, 15 लापता

Wild animal attacked 22 goats of goat farmers, 4 goats died, 3 found alive, 15 missing

उज्जवल हिमाचल। सराज

जिला मंडी स्थित सराज विधानसभा क्षेत्र के उपमंडल थुनाग के गांव बगल्यारा के 2 बकरी पालकों की कुल 22 बकरियों पर जंगली जानवर ने जानलेवा हमला कर दिया। इस घटना में 4 बकरियों की मौत हो गई। जबकि 3 बकरियां जिंदा मिल गई है। हालांकि अभी भी 15 बकरियां लापता हैं। थुनाग प्रशासन द्वारा स्थानीय राजस्व अधिकारी को बकरी पालकों के हुए नुकसान का जायजा लेने के आदेश दे दिए हैं। दोनों बकरी पालकों का कुल 1.20 लाख रुपए के नुकसान का आकलन किया गया है। लापता बकरियों को ढूंढा जा रहा है।

मिली जानकारी के मुताबिक, गत रोज गांव बगल्यारा के बकरी पालक तुले राम पुत्र नरायण सिंह ने 15 बकरियों पर जंगली जानवर द्वारा हरनालनाला जंगल में हमला करने की शिकायत प्रशासन के समक्ष दर्ज करवाई थी। इसके बाद स्थानीय लोगों के सहयोग से तुले राम की 3 बकरियों को जिंदा और 3 बकरियों को मृत हालत में बरामद किया गया।

यह भी पढ़ेंः शिमला में 21 साल के युवक ने किया सुसाइड, शादी में गए थे मां-बाप

लेकिन, अभी भी प्रभावित तुले राम की 9 शेष बची बकरियां लापता हैं। जिन्हें ढूंढने को लेकर प्रयास जारी है। वहीं, गांव बगल्यारा के ही रहने वाले एक अन्य बकरी पालक धर्म चंद पुत्र मोती राम ने भी 7 बकरियों को जंगली जानवर द्वारा हमला करने की शिकायत प्रशासन के समक्ष दर्ज करवाई थी। इनमें से एक बकरी मृत मिली है। जबकि अन्य 6 लापता हैं।

मामले में दोनों बकरी पालकों के नुकसान का जायजा उपमंडल थुनाग के पटवार वृत कांढी के ग्रामीण राजस्व अधिकारी द्वारा लिया गया है। इसके उपरांत आकलन में दोनों बकरी पालकों का कुल 1.20 लाख रुपए का अभी तक नुकसान हो चुका है। एसडीएम थुनाग पारस अग्रवाल ने कहा कि बकरी पालकों की लापता बकरियों को ढूंढने के प्रयास जारी है।

संवाददाताः ब्यूरो सराज

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें।

Please share your thoughts...