21 किलो माक्खन से पहले दिन होगा बाबा भूतनाथ का श्रृंगार

छोटी काशी मंडी में निकलेगी बाबा भूतनाथ से भव्य जलेब

वीरवार तारा रात्रि से बाबा भूतनाथ स्वयंभू शिवलिंग पर चढ़ेगा माखन

उज्ज्वल हिमाचल। मंडी

अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव के दौरान इस वर्ष भी बाबा भूतनाथ की भव्य जलेब निकली जाएगी। इस जलेब में हिमाचल प्रदेश के तमाम शिवालयों के अनुयायियों को विशेष तौर पर आमंत्रित किया जाएगा। यह जानकारी बाबा भूतनाथ के महंत देवानंद सरस्वती ने दी। उन्होंने कहा कि जलेब को भव्य बनाने के लिए तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसके साथ ही बाबा भूतनाथ मंदिर के स्वयंभू शिवलिंग के लिए 100 किलोमीटर के दायरे से मक्खन आएगा और अभी तक लगभग 15 किलो के करीब माखन आ चुका है।

 

उन्होंने कहा कि आठ फरवरी तारा रात्रि से मक्खन चढ़ेगा। पहले दिन 21 किलो मक्खन से बाबा का शृंगार किया जाएगा और एक माह तक हर दिन अलग-अलग रूपों में बाबा का शृंगार किया जाएगा। इस दौरान शिवलिंग का जलाभिषेक नहीं होगा। केवल घृतमंडल रूपी मक्खन ही चढ़ाया जाएगा। देवानन्द सरस्वती ने कहा कि करीब 100 किलोमीटर के दायरे से शिवभक्त शुद्ध मक्खन एकत्रित कर रहे हैं। भूतनाथ मंदिर में शिवलिंग पर आठ फरवरी को तारा रात्रि के दिन शिवलिंग पर मंदिर के पुजारी व अन्य श्रद्धालु मक्खन चढ़ाएंगे। 8 मार्च शिवरात्रि पर्व तक शिवलिंग पर प्रतिदिन देश के अलग अलग राज्यों में स्थित शिव के विभिन्न स्वरूप के दर्शन होंगे।

 

यही नहीं शिव के विभिन्न स्वरूप के साथ स्थान के ऐतिहासिक व धार्मिक महत्व की भी जानकारी शिव भक्तों को प्रदान की जाएगी। शिवरात्रि के दिन भगवान शिव का जलाभिषेक के साथ शृंगार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बाबा भूतनाथ मंदिर में मक्खन चढ़ाने की परंपरा का इतिहास सदियों पुराना है। मक्खन चढ़ाने की परंपरा 1527 ई. से मंडी नगर की स्थापना से चली आ रही है और यह परंपरा शिवरात्रि के एक महीना पहले से शुरू हो जाती है।

संवाददाताः उमेश भारद्वाज

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें

Please share your thoughts...