शहर में बढ़ते बंदरों व कुत्तों के आतंक पर रोक लगाए नगर निगम

Municipal Corporation should stop the terror of monkeys and dogs in the city

शिमला: ज्ञापन के माध्यम से जनवादी नौजवान सभा ने शिमला शहर में लगातार बढ़ रही कुत्तों में बंदरों की समस्या से निपटने के उचित प्रबंध करने, शहर में प्रवासी मजदूरों के लिए रेन बसेरा व शेल्टर बनाने, सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने, शहर के युवाओं के लिए शहरी रोजगार गारंटी योजना को सही तरीके से लागू करने, शहर में जगह-जगह लगे कूड़े के ढेर को साफ करवाने, बर्फबारी के दौरान हर वार्ड में बर्फ से निपटने के लिए उचित प्रबंध करने आदि मांगों को नगर निगम प्रशासन के समक्ष रखा।

नौजवान सभा शिमला शहरी सचिव अमित कुमार ने कहा कि शिमला शहर में लगातार लोगों को विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है एक और जहां शहर में लगातार कुत्तों और बंदरों का आतंक बढ़ता जा रहा है वही सफाई व्यवस्था भी चरमराई हुई है शिमला शहर में सुबह 10:00 बजे तक जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे रहते हैं जो कि नगर निगम की कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े करते हैं।

यह भी पढ़ेंः शिवालिक इंटरनेशनल कॉन्वेंट स्कूल में युवा उत्सव की धूम

साथ ही साथ शहर के युवाओं के लिए शहरी रोजगार गारंटी योजना के तहत किसी भी तरह का रोजगार युवाओं को नहीं मिल पा रहा है तथा नगर निगम प्रशासन को इस पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। आगामी समय में शहर में बर्फबारी से निपटने के लिए उचित प्रबंध करने की मांग को भी नगर निगम प्रशासन से रखा गया।

संवाददाताः ब्यूरो शिमला

हिमाचल प्रदेश की ताजातरीन खबरें देखने के लिए उज्जवल हिमाचल के फेसबुक पेज को फॉलो करें।

 

Please share your thoughts...